जीआई वस्‍त्र प्रदर्शित करने के लिए एलीफेंटा गुफाओं में ‘आर्टिजन स्‍पीक’ का आयोजन

आर्टिजन स्‍पीक

  • सरकार हथकरघा उत्‍पादों को सीधे मंगाने के लिए उद्योग एवं हैंडलूम क्‍लस्‍टरों को जोड़ेगी

भारत के हस्‍तकरघा और वस्‍त्र क्षेत्र को और सुदृढ़ बनाने के लिए भारत सरकार का वस्‍त्र मंत्रालय एक अनूठा कार्यक्रम ‘आर्टिजन स्‍पीक’ का आयोजन करने जा रहा है, जो भारत के समृध हस्‍तकरघा और वस्‍त्र परंपरा को प्रदर्शित करेगा। इसका कार्यक्रम का आयोजन 28 जनवरी 2019 को मुंबई के निकट यूनेस्‍को विश्‍व धरोहर स्‍थल, एलीफेंटा गुफा में किया जाएगा। केंद्रीय मंत्री श्रीमती स्‍मृति जुबिन ईरानी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगी। मेसर्स अरविन्‍द ट्रू ब्‍लू लिमिटेड की तरफ से पूर्व भारतीय क्रिकेटर श्री सचिन तेंदुलकर भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे।

निजी क्षेत्र की भागीदारी

यह ऐतिहासिक अवसर भारतीय हस्‍तकरघा के विकास की दिशा में निजी क्षेत्र द्वारा की जा रही बड़ी प्रतिबद्धताओं की एक नई शुरुआत का भी साक्षी बनेगा। सरकार एवं अग्रणी रिटेलर तथा टेक्‍सटाइल ब्रांडों के बीच सहयोग समझौतों से हस्‍तकरघा संवर्द्धन को बढ़ावा मिलेगा। वस्‍त्र मंत्रालय के विकास आयुक्‍त कार्यालय (हस्‍तकरघा) एवं वस्‍त्र कंपनियों और विकास आयुक्‍त कार्यालय (हस्‍तकरघा) के तहत बुनकर सेवा केंद्र’ (डब्‍ल्‍यूएससी) के बीच हस्‍ताक्षर किए जाने वाले समझौते सुगमकर्ता का कार्य करेंगे और कपड़ा कंपनियों तथा हैंडलूम क्‍लस्‍टरों को आपस में जोड़ेंगे। डब्‍ल्‍यूएससी कपड़ा कंपनियों को निर्धारित गुणवत्‍ता, लागत एवं समय सीमा के अनुरूप अपनी आवश्‍यकता के लिहाज से सीधे हैंडलूम क्‍लस्‍टरों से मंगाने में सक्षम बनाएंगे। इसके फलस्‍वरूप बुनकरों को बेहतर मूल्‍य भी प्राप्‍त होगा तथा उनकी बाजार समझ में भी सुधार आएगा।

 

इस अवसर पर नि‍म्‍नलिखित कपड़ा कंपनियां वस्‍त्र मंत्रालय के साथ समझौतों पर हस्‍ताक्षर करेंगी:

  • अरविन्‍द ट्रू ब्‍लू लिमिटेड (श्री कुलीन लाल भाई, कार्यकारी निदेशक)
  • रेमण्‍ड लिमिटेड (श्री गौरव महाजन, अध्‍यक्ष – ग्रुप अपैरल्‍स)
  • वेलस्‍पन इंडिया लिमिटेड (श्री अनिल चन्‍ना, कार्यकारी निदेशक परिचालन)
  • टाइटन कंपनी लिमिटेड (श्री अजॉय चावला, वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष)
  • रिलायंस रिटेल लिमिटेड (श्री अखिलेश प्रसाद, अध्‍यक्ष एवं मुख्‍य कार्यकारी)

बडे ब्रांडो एवं हैंडलूम क्‍लस्‍टरों के बीच कार्यनीतिक साझेदारी का उद्देश्‍य एक तरफ प्रमुख कंपनियों और हस्‍तकरघा बुनकरों के बीच दीर्घकालिक बाजार संपर्क की स्‍थापना करना है तथा दूसरी तरफ यह क्षेत्र का स्‍थाई विकास भी सुनिश्चित करेगा, जिससे बुनकरों के लिए आय के टिकाऊ और बढ़े अवसर प्राप्‍त होंगे।

डिजाइनर्स की भागीदारी

यह कार्यक्रम अग्रणी डिजाइनरों की प्रतिभागिता के साथ एक मोहक सांस्‍कृतिक शो के जरिए भारतीय वस्‍त्रों को बड़े पैमाने पर प्रदर्शित करेगा। कारीगरों के साथ स्‍थापित एवं उभरते डिजाइनरों की प्रस्‍तुति भारत के विभिन्‍न क्षेत्रों से संबंधित जीआई (भौगोलिक संकेतक) पर आधारि‍त होगी। यह जीआई वस्‍त्रों की क्षमता को प्रदर्शित करेगा, जिससे कि ऐसे उत्‍पादों का निर्माण किया जा सके एवं उनके बारे में जागरूकता फैलाई जा सके। साथ ही, यह जमीनी स्‍तर के हितधाराकों, की आपूर्ति श्रृंखला क्षमता और कौशलों को भी सुदृढ बनाएगा।

प्रस्‍तुति में भाग लेने वाले कुछ प्रमुख डिजाइनर एवं कारीगर निम्‍नलिखित हैं:

  • डिजाइनर राहुल मिश्रा चिकनकारी प्रदर्शित करेंगे।
  • डिजाइनर पायल खंडवाला बनारसी जरी वस्‍त्र प्रदर्शित करेंगी।
  • उस्‍ताद बुनकर शांतिलाल भांगडे पैठानी प्रदर्शित करेंगे।
  • केरल की डॉ. ऊषा देवी बालकृष्‍णन अंका के जरिए बलरामपुरम साडि़यां प्रस्‍तुत करेंगी।
  • डिजाइनर करिश्‍मा शहानी खान कोटा डोरिया/चंदेरी वस्‍त्र प्रदर्शित करेंगी।
  • डिजाइनर मीरा मुज्‍जफर अली चिकनकारी प्रस्‍तुत करेंगी।
  • डिजाइनर पद्मजा महेश्‍वरी वस्‍त्र प्रदर्शित करेंगी।
  • कारीगर राजीब देबनाथ (वर्धवान) जामदानी साडि़यां प्रदर्शि‍त करेंगे।
  • डिजाइनर अब्राहम एवं ठाकुर हथकरघा कपास पर हैंड-ब्‍लॉक प्रिंट प्रदर्शित करेंगे।

इस दौरान संगीत एवं नृत्‍य समेत सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा।

About SMEsamadhan

Check Also

राष्ट्रीय एकीकृत लॉजिस्टिक्स योजना पर कार्यशाला आयोजित

लॉजिस्टिक्स प्रदर्शन सूचकांक विश्व बैंक के लॉजिस्टिक्स प्रदर्शन सूचकांक में भारत की रैंकिंग में उल्लेखनीय …