वायरल वीडियो के बाद जोमैटो कर रही है टैम्परिंग प्रूफ पैकेजिंग पर विचार – डिलीवरी प्रक्रिया में भी होगा सुधार

सोशल मीडिया से अब आप कुछ छुपा नहीं सकते हैं और अगर अपनी गल्तियों से आप कुछ सीखते नहीं हैं तो यह भी न आपके लिए ठीक होगा और न आपके व्यापार के लिए। जोमैटो का एक वीडियो पिछले दिनों खूब वायरल हुआ जिसे शेयर करते हुए हमारे एक मित्र ने यह तक कह दिया कि “जुठिया खाना हो तो ब्रांड चांपों”, जोमैटो डिलिवरी मैन ने फ़ूड पैकिंग खोलकर खाने का मजा लिया और फिर वापस उसे पैक कर के रख दिया, यह वीडियो सोमवार को ही सोशल मीडिया पर दिखा था और आते ही वायरल हो गया।

जोमैटो ने इस वायरल वीडियो की समीक्षा की और पाया कि यह वीडियो मदुरई का था और वीडियो में दिख रहा व्यक्ति जोमैटो का डिलीवरी पार्टनर है। जोमैटो इस मानवीय त्रुटि को स्वीकार किया है और इससे सबक लेने का भी वादा किया है।

जोमैटो के अनुसार, “इस घटना को ध्यान में रखते हुए हम अपने डिलीवरी बेड़े के प्रशिक्षण, शेड्यूलिंग और प्रक्रिया में सुधार लायेंगे, पैकेजिंग में सुधार लाकर हम ग्राहक के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को और भी मजबूत बनाएंगे। जोमैटो जल्द ही टैम्पर प्रूफ पैकेजिंग की व्यवस्था कर रही है।”

दरअसल यह सब कुछ मात्र जोमैटो ही नहीं बल्कि अन्य डिलीवरी व्यापार से जुड़े लोगों को भी करना होगा। सिर्फ जोमैटो के साथ ही इस समय 1.5 लाख से अधिक डिलीवरी पार्टनर जुड़े हुए हैं। सितंबर माह में कंपनी ने सब्सक्रिप्शन-आधारित रेस्तरां सेवा – ज़ोमैटो गोल्ड के लिए अपनी नीतियों को बदलने के तीन महीने बाद कंपनी का दूसरा सार्वजनिक विवाद है।

ठीक ही है कम से कम हमारी व्यापारिक कम्पनियाँ अपनी गल्तियों से सीखती तो हैं, वरना कई बार तो हमारे राजनेता अपनी गल्तियों से सीखते भी नहीं हैं।

यहाँ क्लिक करें और जोमैटो पर फ़ूड टेम्परिंग पर लिखा ब्लॉग भी पढ़ें

Against food tampering

About SMEsamadhan

Check Also

राष्ट्रीय एकीकृत लॉजिस्टिक्स योजना पर कार्यशाला आयोजित

लॉजिस्टिक्स प्रदर्शन सूचकांक विश्व बैंक के लॉजिस्टिक्स प्रदर्शन सूचकांक में भारत की रैंकिंग में उल्लेखनीय …