केरल स्टार्टअप मिशन स्टार्टअप्स को दे रहा मौका – 2 साल के इन्क्यूबेशन कार्यक्रम में शामिल होने और आगे बढ़ने का

केरल स्टार्टअप मिशन जनवरी 2019 से स्टार्टअप्स के लिए 2 वर्षीय इन्क्यूबेशन कार्यक्रम लेकर आया है। केरल सरकार द्वारा समर्थित केरल स्टार्टअप मिशन के इस कार्यक्रम के साथ स्टार्टअप उनके लिए उपलब्ध विभिन्न सरकारी योजनाओं का भी लाभ उठा सकेंगे। इस इन्क्यूबेशन कार्यक्रम के माध्यम से भारतीय स्टार्टअप राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय एक्सपोजर कार्यक्रमों, उद्योगों के साथ भागीदारी, सरकारी अनुदानों एवं वित्त पोषण का लाभ उठाने के साथ साथ व्यापारिक सफलता के लिए आवश्यक नेटवर्किंग भी प्राप्त करेंगे।

केरल स्टार्टअप मिशन का यह इन्क्यूबेशन कार्यक्रम जनवरी 2019 के पहले सप्ताह से प्रारम्भ होगा। स्टार्टअप को इस कार्यक्रम के लिए 10 दिसंबर तक केएसयूएम वेबसाइट के माध्यम से आवेदन करना होगा, शॉर्टलिस्ट होने वाले स्टार्टअप्स को 16 दिसंबर तक ईमेल के माध्यम से अधिसूचित किया जाएगा। अंतिम चयन के लिए स्टार्टअप्स को पिचिंग का अवसर प्रदान किया जाएगा, 21 दिसंबर को स्टार्टअप पिचिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा। कार्यक्रम के लिए चयनित स्टार्टअप्स के लिए 8 से 12 जनवरी तक इंडक्शन आयोजित किया जायेगा और उसके बाद यह इन्क्यूबेशन प्रोग्राम शुरू हो जायेगा।

शुरुआती महीनों में स्टार्टअप्स को सेक्टर कनेक्ट प्रोग्राम्स, डेमो डेज, नेटवर्किंग एवं कम्युनिटी ईवेंट्स के माध्यम से स्थापित एवं विकसित किया जायेगा। हर तीन महीने पर इन स्टार्टअप्स के आईडिया और उत्पाद को ध्यान में रखते हुए उनके प्रदर्शन का मूल्याङ्कन किया जाएगा और उनके व्यापारिक विकास में तेजी लाने का प्रयास किया जायेगा।

इस कार्यक्रम के द्वारा उम्मीद की जा रही है कि स्टार्टअप 9-12 महीने में इस इन्क्यूबेशन कार्यक्रम को पूरा कर लेंगे, लेकिन जिन स्टार्टअप आइडियाज को लम्बे विकास एवं बिक्री चक्र की आवश्यकता होगी उनका इन्क्यूबेशन 2 वर्ष तक जारी रहेगा।

जिन स्टार्टअप्स ने अपनी कंपनियों को पंजीकृत नहीं किया है, तो उन्हें 31 जनवरी, 2019 से पहले ऐसा करना होगा और केएसयूएम इसके लिए आवश्यक सहायता और सुविधा प्रदान करेगा।

Advertisement

About SMEsamadhan

Check Also

Budget Highlights – बजट के प्रमुख बिंदु

Budget Highlights पांच साल में भारत वैश्विक स्तर पर सबसे बेहतर निवेश स्थल बना। सरकार …