उदीयमान स्टार्ट-अप के लिए पिच टू मूव नामक मोबिलिटी पिच प्रतिस्पर्धा का अंतिम दौर आयोजित

“पिच टू मूव” का अंतिम दौर 4 सितंबर 2018 को यहां आयोजित हुआ। इसका आयोजन नीति आयोग ने इंवेस्ट इंडिया और सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैनुफैक्चरर्स (एसआईएएम) के सहयोग से किया था। अंतिम दौर में मोबिलिटी से संबंधित 32 स्टार्ट-अप पेश किये गये, जिन्होंने उद्योग विशेषज्ञों और उपक्रम निवेशकों के निर्णायक मंडल के समक्ष अपने-अपने विचार रखे।

‘पिच टू मूव’ में उपस्थित नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार ने कहा कि भारतीय स्टार्ट-अप द्वारा प्रस्तुत अभिनव विचारों को देखना बहुत प्रभावशाली है। मोबिलिटी के क्षेत्र में इनका योगदान बहुत अमूल्य है।

निर्णायक मंडल ने विचार और विकास के स्तर पर स्टार्ट-अप समूह से दो विजेताओं का चयन किया। विकास स्तर के स्टार्ट-अप वर्ग से मोबिसी नामक डॉकलेस बाइक शेयरिंग ऐप को विजेता चुना गया। विचार स्तर पर जर्नी को चुना गया। यह एनड्रॉयड आधारित टिकट संबंधी सुविधा है।

इस अवसर पर नीति आयोग के सीईओ श्री अमिताभ कांत ने कहा कि उद्यमियों की नई पीढ़ी के पास भारत के भविष्य को बदलने की अपार क्षमता मौजूद है। नीति आयोग इनके प्रयासों को हमेशा समर्थन देगा।

स्रोत: पीआईबी

About SMEsamadhan

Check Also

5 लाख रुपये तक की आय पर कर में पूरी छूट; अधिक मानक कटौती का प्रस्‍ताव

Tax proposal will benefit 3.5 crore people करीब 3 करोड़ लघु और मध्‍यम वर्ग के …