जल्द बनेगा लखनऊ स्मार्ट सिटी

कल लखनऊ में 938 करोड़ रुपये की लागत वाली 438 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया गया. लोकार्पण कार्यक्रम का उद्दघाटन गृहमंत्री राजनाथ सिंह एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया. कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन, बृजेश पाठक और रीता बहुगुणा जोशी सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि और अधिकारीगण मौजूद रहे.

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इस अवसर पर कहा कि लखनऊ के सर्वांगीण विकास के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि लखनऊ के विकास की जो नींव पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने रखी थी उसे बाद में सांसद लालजी टंडन और अब वे आगे बढ़ा रहे हैं. उन्होने कहा कि लखनऊ की आबादी 35 लाख से भी ज्यादा है और 20 लाख से भी ज्यादा पंजीकृत वाहन यहां हैं. 25-30 वर्षों के बाद की स्थिति के मद्देनजर आधारभूत ढांचे पर काम किया जा रहा है. राजनाथ सिंह ने कहा कि रिंग रोड की घोषणा इसी की एक कड़ी है. विकास कार्यों की चर्चा करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि गरीबों और किसानों के उत्थान के लिए सबका साथ सबका विकास, ग्राम सड़क योजना 4350 करोड़ रुपये की लागत से शुरू की गई.

प्रदेश सरकार की गौरवपथ योजना का उल्लेख करते हुए उन्होने कहा कि 2017 के 24 मेधावी छात्रों के गांव को पक्की सड़क से जोड़ने के लिए 7 करोड़ रुपये और 2018 के 88 छात्रों के गांव को पक्की सड़क से जोड़ने के लिए 23 करोड़ रुपये की लागत से काम चल रहा है. इनमें से बहुत सी सड़कें बन चुकी हैं और बाकी पर जल्द ही कार्य पूरा कर लिया जाएगा. राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रदेश में पहली बार एक साथ 6.24 किलोमीटर लंबाई के चार एलिवेटेड हाईवे का आज शिलान्यास हो रहा है. इसपर 414 करोड़ रुपये की लागत आई है.

गृहमंत्री ने कहा कि सुविधाओं के बढ़ने के बाद लखनऊ हवाई अड्डे की गतिविधियों में भी इजाफा हुआ है. पहले जहां 23 लाख यात्रियों की आवाजाही थी वहीं अब यह बढ़कर 45 लाख तक पहुंच गई है. उन्होंने कहा कि 1383 करोड़ रुपये की लागत से डी-थ्री की परियोजना को मंजूरी दे दी गई है और तीन वर्ष में इस कार्य को पूरा कर लिया जाएगा.

गृहमंत्री ने कहा कि 1900 करोड़ रुपये की लागत से गोमती नगर टर्मिनस का काम शुरू हो गया है. इसके बन जाने के बाद चारबाग रेलवे स्टेशन के बोझ को कम किया जा सकेगा. उन्होंने कहा कि चारबाग जंक्शन रेलवे स्टेशन पर 1800 करोड़ रुपये की लागत से काम हो रहा है. इससे जहां एक ओर यात्री सुविधाएं बढ़ेंगी वहीं आउटर पर रेलगाड़ियों में होने वाले संचालन विलंब को भी दूर किया जा सकेगा. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसी तरह 96 करोड़ रुपये की लागत से आलम नगर रेलवे स्टेशन के विकास का कार्य किया जा रहा है.

गोमती को प्रदूषण मुक्त करने के लिए उठाए गए महत्वपूर्ण कदमों की चर्चा करते हुए श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हैदर कैनाल पर 336 करोड़ रुपये की लागत से एसटीपी का काम को मंजूरी दे दी गई है. पिछले महीने की 25 जुलाई से काम भी शुरू हो गया है. उन्होने बताया कि इसी तरीके से 11 करोड़ रुपये की लागत से सामुदायिक शौचालयों पर काम किया जा रहा है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले 15 महीनों के उनकी सरकार के कार्यकाल के दौरान जहां प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बहाल हुई है वहीं सड़कों तथा सस्ती दर पर अबाध बिजली मुहैया कराने की दिशा में भी उल्लेखनीय कार्य हुआ है. योगी आदित्यनाथ  ने कहा कि स्मार्ट सिटी और अमृत योजनाओं के तहत लखनऊ के विकास की दिशा में तेजी से कार्य हो रहा है. कार्यक्रम में गृहमंत्री और मुख्यमंत्री ने ‘सबका साथ सबका विकास, ग्राम सड़क योजना’ और ‘गौरवपथ- एक अभिनव प्रयास योजना’ पर पुस्तिकाओं का विमोचन भी किया.

Source: PIB.

About SMEsamadhan

Check Also

स्टार्ट-अप्स को जल्द ही सरकारी ई-बाजार – जीईएम प्लेटफॉर्म पर लाया जाएगा

सरकारी ई-बाजार (जीईएम) तथा औद्योगिक नीति और संवर्धन विभाग (डीआईपीपी) स्टार्ट-अप्स के लिए एक पीओसी …