खादी के पश्चिमी एवं परंपरागत डिजायनर वस्त्रों की बिक्री का शुभारम्भ किया गया

केंद्रीय सूक्ष्म,लघु एवं मध्यम उद्यम राज्य मंत्री ( स्वतंत्र प्रभार) श्री गिरिराज सिंह ने आज कनाट प्लेस स्थित खादी भवन में खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग द्वारा  विशेष रूप से बनाए गए पश्चिमी और परंपरागत डिजायनर वस्त्रों का शुभारंभ किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री गिरिराज सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के खादी को भारत की पहचान का वस्त्र बनाने के आव्हान के बाद खादी क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति हुई है और यह देश के आर्थिक परिवर्तन का प्रतीक है। श्री गिरिराज सिंह ने आशा व्यक्त कि भविष्य में खादी विश्व का वस्त्र बनेगा।

श्री सिंह ने कहा कि सौर चरखा मिशन के शुभारंभ होने के बाद 5 करोड़ लोगो के लिए रोजगार सृजन होगा। उन्होंने खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग की बिक्री में तीव्र वृद्धि और गत चार वर्षो में वार्षिक बिक्री के लिए सराहना की।

इस अवसर पर अपने संबोधन में खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के अध्यक्ष  श्री विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि खादी हाथ से बना और काता गया शून्य कार्बन फुटप्रिंट वाला एक प्राकृतिक वस्त्र है और यह युवाओ के बीच बेहद लोकप्रिय है।

इस अवसर पर केंद्रीय सूक्ष्म,लघु एवं मध्यम उद्यम सचिव श्री अरूण कुमार पांडा भी उपस्थित थे।

स्रोत: पीआईबी.

About SMEsamadhan

Check Also

अपग्रेड ने डाटा साइंस क्षेत्र में 5 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति की घोषणा की

स्टार्टअप्स एवं कौशल विकास कार्यक्रमों के क्षेत्र में काम कर रहे संस्थान अपग्रेड एजुकेशन प्राइवेट …