इन्वेस्ट इंडिया और बिजनेस फ्रांस ने निवेश को बढ़ावा देने के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किए

इन्वेस्ट इंडिया और बिजनेस फ्रांस ने भारत एवं फ्रांस के स्टार्ट अप्स के बीच सहयोग बढ़ाने तथा निवेश में सहूलियत के लिए एक सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। इसका मुख्य उद्देश्य उद्यमों को व्यावहारिक निवेश सूचनाएं सुलभ कराते हुए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को सुविधाजनक बनाना और दोनों देशों के आर्थिक विकास में सकारात्मक योगदान करने वाले अवसरों पर अपना ध्यान केन्द्रित करने वाली कम्पनियों को आवश्यक सहयोग प्रदान करना है।

फ्रांस के उद्यमियों और भारत के निजी क्षेत्र के बीच अवसरों की पहचान करने और संस्थागत ज्ञान को मजबूत करने संबंधी अनुभवों के आदान-प्रदान और संयुक्त गतिविधियों के जरिए व्यवसाय और स्टार्ट अप्स परितंत्र में सहयोग को बढ़ावा देने के लिए इन्वेस्ट इंडिया और बिजनेस फ्रांस आपस में गठबंधन करेंगी।

इन्वेस्ट इंडिया भारत सरकार की आधिकारिक निवेश संवर्धन एवं सुविधा प्रदाता एजेंसी है, जिसे देश में निवेश को सुविधाजनक बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। यह देश में संभावित वैश्विक निवेशकों के लिए सबसे पहला केन्द्र है।

बिजनेस फ्रांस आर्थिक मामलों एवं वित्त मंत्री और विदेश एवं अंतर्राष्ट्रीय विकास मंत्री के पर्यवेक्षण में फ्रांस सरकार की एक कार्यकारी एजेंसी है। यह 80 व्यापार आयोगों के एक विश्वव्यापी नेटवर्क के जरिए फ्रांस की कम्पनियों और प्रोफेशनलों के लिए अंतर्राष्ट्रीय व्यवसाय विकास को बढ़ावा देती है।

स्रोत: पीआईबी.

About SMEsamadhan

Check Also

स्टार्ट-अप्स को जल्द ही सरकारी ई-बाजार – जीईएम प्लेटफॉर्म पर लाया जाएगा

सरकारी ई-बाजार (जीईएम) तथा औद्योगिक नीति और संवर्धन विभाग (डीआईपीपी) स्टार्ट-अप्स के लिए एक पीओसी …