प्रकाश जावड़ेकर ने स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2018 के प्रथम हार्डवेयर संस्करण के ग्रैंड फिनाले का उद्घाटन किया

नवाचार एवं अनुसंधान के लिए अनुकूल माहौल बनाना सरकार की प्राथमिकता है: श्री प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज नई दिल्ली में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2018 – हार्डवेयर संस्करण के पांच दिवसीय ग्रैंड फिनाले का उद्घाटन किया। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्च शिक्षा विभाग में सचिव श्री आर. सुब्रमण्यम भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

इस अवसर पर मंत्री महोदय ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की ‘मेक इन इंडिया’ पहल की तर्ज पर ही स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2018 का आयोजन किया जा रहा है और यह एक ऐसा महत्वपूर्ण साधन साबित हो रहा है, जो नए विचारों की खोज करने तथा उन्हें उत्पादों एवं व्यवसायों में तब्दील करने में मददगार है। मंत्री महोदय ने कहा कि नवाचार और अनुसंधान के लिए अनुकूल माहौल बनाना हमारी प्राथमिकता है, क्योंकि किसी भी देश की समृद्धि एवं विकास इसके बिना अधूरा है। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार सफल नवाचार या अभिनव प्रयोगों के लिए अवसरों को प्रोत्साहित कर रही है, क्योंकि आर्थिक विकास एवं कल्याण की दृष्टि से ये अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि यह विद्यार्थियों के लिए अपने अभिनव विचारों को विभिन्न उत्पादों में तब्दील करने और अंतत: अपनी स्टार्टअप पहलों में उनकी मदद करने का एक सुअवसर है।

श्री जावड़ेकर ने हार्डवेयर हैकाथॉन के प्रतिभागियों की सफलता की कामना भी की और उन्हें आश्वासन दिया कि इस प्रयास को तार्किक परिणति तक आगे बढ़ाया जाएगा।

हार्डवेयर संस्करण मानव संसाधन विकास मंत्रालय की अपनी तरह की प्रथम अभिनव पहल है, जिसका उद्देश्य भारत की युवा तकनीकी समझ को अपने ऐसे परिवर्तनकारी नवाचारों और रचनात्मक उत्पादों को प्रदर्शित करने के लिए राष्ट्रीय प्लेटफॉर्म प्रदान करना है जो कृषि, स्वास्थ्य, स्वच्छ जल, अपशिष्ट प्रबंधन, ऑटोमोटिव, स्मार्ट संचार एवं शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में क्रांतिकारी बदलाव लाने में सक्षम हो सके। हार्डवेयर संस्करण दरअसल एसआईएच2018 की उप-संस्करण है।

हार्डवेयर हैकाथॉन का ग्रैंड फिनाले पांच दिवसीय आयोजन होगा और इसका आयोजन एक साथ देश भर में इन 10 प्रतिष्ठित संस्थानों (प्रमुख केंद्र) में किया जाएगा – आईआईटी कानपुर (ड्रोन थीम), आईआईटी खड़गपुर (कृषि थीम), आईआईटी गुवाहाटी (ग्रामीण प्रौद्योगिकी थीम), सीईईआरआई पिलानी (स्मार्ट कम्युनिकेशन थीम), सीएसआईओ चंडीगढ़ (हेल्थकेयर थीम), आईआईएससी बेंगलुरू (स्मार्ट वाहन थीम), आईआईटी रुड़की (स्वच्छ पानी थीम), एनआईटी त्रिची (अपशिष्ट प्रबंधन थीम), सीओईपी पुणे (सुरक्षा थीम), और फोर्ज कोयंबटूर (आयात प्रतिस्थापन थीम)।

स्रोत: पीआईबी.

About SMEsamadhan

Check Also

अपग्रेड ने डाटा साइंस क्षेत्र में 5 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति की घोषणा की

स्टार्टअप्स एवं कौशल विकास कार्यक्रमों के क्षेत्र में काम कर रहे संस्थान अपग्रेड एजुकेशन प्राइवेट …