Photo for reference only.

लेटरल एंट्री के साथ सरकारी काम काज में प्रोफेशनलिज्म लाने की तैय्यारी  

प्रधानमंत्री मोदी के काम करने के तरीके में का अलग अंदाज एक बार फिर चर्चा लेटरल एंट्री के साथ प्रोफेशनल्स की सीधी भर्ती के फैसले के साथ. संयुक्त सचिव स्तर की केन्द्रीय सेवाओं के लिए बिना यूपीएससी की किसी भागीदारी के सीधे भर्ती की जायेगी.

दस विभागों में इस तरह से भर्ती किये जाने के लिए आवेदन विज्ञापन के माध्यम से आमंत्रित किये गए हैं. इच्छुक उम्मीदवार 15 जून से 30 जुलाई के बीच आवेदन कर सकते हैं . वित्तीय सेवा, आर्थिक मामले, कृषि, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, पोत परिवहन, पर्यावरण, नवीकरणीय ऊर्जा, नागरिक उड्डयन और वाणिज्य के क्षेत्र में विशेषज्ञता रखने वाले उत्कृष्ट लोगों की लेटरल एंट्री के माध्यम से भर्ती की जायेगी.

सूत्रों की मानें तो निजी क्षेत्र में उच्च पदस्थ लोगों को इन पदों के लिए आकर्षित करने एवं सरकारी काम काज में और अधिक प्रोफेशनलिज्म लाने के लिए यह कदम उठाया गया. चयनित उम्मीदवारों के लिए संयुक्त सचिव के तौर पर 144200-218200   रुपयों का वेतनमान निश्चित किया गया है. इन अधिकारिओं का कार्यकाल अधिकतम पांच वर्ष होगा और इन्हें संयुक्त सचिव स्तर की सभी सुविधाएं प्राप्त होंगीं.

प्रायोगिक स्तर पर एक दो नियुक्तियां इस प्रकार पहले ही की जा चुकीं थे लेकिन सार्वजनिक स्तर पर बाकयदा विज्ञापित करके यह आवेदन पहली बार आमंत्रित किये गए हैं. यह तरीका सफल होने पर भविष्य में और भी भर्तियाँ संभव हैं. वैसे तो देखा जाय तो दिल्ली राज्य में अरविन्द केजरीवाल ने भी इस प्रकार की भर्तियाँ की थीं, लेकिन नियमों की अनदेखी की वजह से उनकी योजना विवादों में आ गई.

इस लिंक को फॉलो करके आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं. https://lateral.nic.in/

 

 

 

About SMEsamadhan

Check Also

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने लॉन्च किया अपना बहुप्रतीक्षित “बीएसई स्टार्टअप प्लेटफॉर्म”

बीएसई स्टॉक एक्सचेंज ने बहुप्रतीक्षित “बीएसई स्टार्टअप प्लेटफॉर्म” अभी हाल ही में लॉन्च कर दिया …