इंडियन चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स, स्लोवाक गणराज्य के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी राकेश तोरानी एवं इंडियनचैम्बर ऑफ़ कॉमर्स, स्लोवाक गणराज्य के लखनऊ चैम्बर की अध्यक्ष अपर्णा मिश्रा अभी हाल में यूपी इन्वेस्टर समिट के दौरान.

लखनऊ में स्टार्टअप्स को बढ़ावा देता क्लब कैफ़े बिज़

स्टार्टअप्स अथवा उद्यमिता के लिहाज से देखा जाय तो अभी भी उत्तर प्रदेश काफी पीछे है. लेकिन जहाँ चाह है, वहाँ राह मिल ही जाती है. यही सिद्ध किया लखनऊ की महिला उद्यमी अपर्णा मिश्रा ने, वो आज न केवल खुद अपना व्यवसाय चला रही हैं, बल्कि अन्य उद्यमिओं के लिए सहायक भी बनी हुई हैं. उन्होंने क्लब कैफ़े बिज़ नाम की संस्था बना रखी है, जो लखनऊ से संचालित होने की बावजूद देश भर के स्टार्टअप्स की मदद कर रही है.

लखनऊ स्थित क्लब कैफ़े बिज़ एक स्टार्टअप कंसल्टिंग है जो आकांक्षी, विचारात्मक, प्रोटोटाइप एवं बढ़ते हुए उद्यमिओं एवं स्टार्ट अप्स को सहयोग प्रदान करता है. क्लब कैफ़े बिज़ (सी.सी.बी.) टियर २ एवं टियर ३ शहरों के उद्यमिओं के साथ कार्य कर रहा है. यह उद्यमिओं एवं स्टार्ट अप को ३६० डिग्री समर्थन एवं सहयोग प्रदान करने का प्रयास कर रहा है.

क्लब कैफ़े बिज़ की संस्थापक एवं निदेशक अपर्णा मिश्रा इस सन्दर्भ में बताती हैं, “क्लब कैफ़े बिज़ एक अद्वितीय सहभागिता मॉडल के साथ उद्यमिता के विकास हेतु कार्य कर रहा है, जो इसे अन्य परामर्श सेवाओं से काफी अलग रखता है. हम उद्यमिओं एवं स्टार्टअप्स को एक विशिष्ट प्रकार की हैण्डहोल्डिंग प्रदान करते हैं जिससे वे अपने सपनों को साकार कर सकें. अपर्णा बताती हैं कि उद्यमिता का यह मंच इच्छुक लोगों, मौजूदा उद्यमियों, महिला उद्यमियों, सामाजिक उद्यमियों एवं स्टार्टअप्स के लिए समुदाय के सामान है, जहाँ बैठकर वे एक दूसरे से संवाद स्थापित कर सकें. उद्यमिता को एक मिशन के रूप के में स्थापित करता क्लब कैफ़े बिज़.”

क्लब कैफ़े बिज़ विभिन्न चरणों में उद्यमिओं को प्रबंधन परामर्श सेवाएं प्रदान करते हुए उन्हें उनके प्रारंभिक विकास एवं परिपक्वता प्राप्त करने में सहयोग प्रदान करता है.

सी.सी.बी. उद्यमियों के संभावित विकास के लिए समर्पित एक अग्रणी समुदाय है. अपर्णा सी.सी.बी. के मिशन के बारे में बोलते हुए बताती हैं, हमारा मिशन है उद्यमियों को समृद्ध और समृद्ध करना और इसके लिए हम उनके   पारिस्थितिकतंत्र में सुधार करते हुए उनके व्यापारिक आधार को मजबूत करते हैं. हमारे साथ  25 वर्ष से अधिक का अनुभव रखने वाले कुशल पेशेवर हैं  जो उद्यमिओं के पेशेवर कौशल को बढ़ाने, योजना एवं व्यावसायिक रणनीति बनाने तथा व्यवसायों को नए या इनोवेटिव समाधान प्रदान करते हुए उन्हें सफल बनाने में मदद करते हैं.”

यह एक प्रीमियम समुदाय है जो आपको समान विचारधारित उद्यमियों के साथ हाथ मिलाने और उद्यमी के डीएनए को समझने की आवश्यकता पर जोर देता है. समुदाय की गतिविधियां में पुरुष एवं महिला उद्यमिओं को प्रोत्साहित, प्रेरित एवं प्रोत्साहन प्रदान करना है.

यह एक प्रीमियम समुदाय है जो आपको समान विचारधारित उद्यमियों के साथ हाथ मिलाने और उद्यमी के डीएनए को समझने की आवश्यकता पर जोर देता है. समुदाय की गतिविधियां में पुरुष एवं महिला उद्यमिओं को प्रोत्साहित, प्रेरित एवं प्रोत्साहन प्रदान करना है.

यह मंच भारत एवं इसके पड़ोसी देशों में उद्यमिता से सम्बद्ध विभिन्न कार्यक्रमों, इवेंट्स, सेमीनार तथा कार्यशालाओं का आयोजन करता है, जिससे उद्यमी न सिर्फ देश में बल्कि वैश्विक स्तर पर अपने आपको प्रमोट कर सकें। यह समुदाय स्टार्टअप्स, सामाजिक उद्यमिओं तथा आने वाले कल के उभरते हुए उद्यमिओं को भरपूर सहयोग प्रदान करता है. भारत के टियर 2 और टियर 3 शहरों में उद्यमिओं की पहचान, उनके विकास और बढ़ावे के लिए भी यह समुदाय अनवरत कार्य कर रहा है.

यदि कोई उद्यमी किसी भी उद्यम को चलाने या शुरू करने में सक्षम नहीं है अथवा उद्यम में बने रहना उसके लिए चुनौती सिद्ध हो रही है तो कैफेबिज उन्हें सही विचार, मॉडल तथा परामर्श प्रदान करते हुए उद्यमिता के लिए सक्षम बनाता है.

अभी हाल में संपन्न होने वाली यू.पी इन्वेस्टर समिट 2018 में यूरोपियन यूनियन देशों के बहुत से प्रतिनिधि लखनऊ आ रहे हैं. इसे एक अवसर के रूप में देखते हुए क्लब कैफ़े बिज़ उत्तर प्रदेश की उद्यमिता को सात समुन्दर पार तक पहुंचाने का प्रयास कर रहा है. स्लोवाकिया के प्रतिनिधि मंडल ने इसमें काफी रुची दिखाई है. इंडियन चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स, स्लोवाक गणराज्य, के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी राकेश तोरानी ने आज इस सन्दर्भ में क्लब कैफ़े बिज़ की संस्थापक  अपर्णा मिश्रा से मुलाकात की. इंडियन चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स, स्लोवाक गणराज्य के यू.पी. चैप्टर की घोषणा इसके पार्टनर कंट्री सेशन में संभावित है और उम्मीद की जा सकती है कि क्लब कैफ़े बिज़ इसमें भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा. इस टाई अप से उत्तर प्रदेश के उद्यमी स्लोवाक गणराज्य से आयात – निर्यात एवं वहाँ अपनी उद्यमिता की संभावनाओं की तलाश पूरी कर सकते हैं.

____________________________________

कैसी लगी आपको उद्यमिता से जुड़ी क्लब कैफ़े बिज़ जी की यह कहानी, हमें अवश्य लिखें. आप सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमिओं के इस पोर्टल SMEsamadhan.com और क्या पढ़ना चाहते हैं, वह भी हमें लिखें.

संपर्क-सूत्र: editor@SMEsamadhan.com

About SMEsamadhan

Check Also

गवर्नमेंट ई-मार्किट – जीईएम पोर्टल पर राष्ट्रीय मिशन – सरकारी खरीद के आंकड़े

सार्वजानिक खरीद नीति को गति प्रदान करने के लिए जीईएम प्लेटफॉर्म पर राष्ट्रीय मिशन का …